March 4, 2024

बारिश और आंधी के साथ ओले गिरने की संभावना, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

1 min read

देहरादून। गर्मी ने प्रचंड रूप दिखाना शुरू कर दिया है। मैदानी इलाके सूरज की तपिश से जल रहे हैं तो वहीं पर्वतीय इलाकों में बारिश की संभावना को देखते हुए लोगों ने पहाड़ों का रुख करना शुरू कर दिया है। मौसम विभाग ने 14 जून तक प्रदेश के कुछ हिस्सों में ओलावृष्टि के साथ-साथ आंधी चलने की चेतावनी जाहिर की है, इसके चलते ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इन दिनों मौसम खुला होने के कारण केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में बड़ी संख्या में तीर्थयात्री पहुंच रहे हैं। मौसम विभाग की ओर से जारी अलर्ट में तीर्थयात्रियों से भी सतर्कता बरतने और चार धाम सहित पर्वतीय जिलों में जाने से पहले मौसम का अपडेट अपील की गई है।

मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून ने उत्तराखंड में अलर्ट जारी करते हुए 11 से 14 जून तक ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। उत्तरकाशी, टिहरी, देहरादून, पौड़ी, हरिद्वार, उधम सिंह नगर और नैनीताल जिलों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने,ओलावृष्टि एवं झक्कड़ 70 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने की समय संभावना है।
मौसम निदेशक डॉ विक्रम सिंह के मुताबिक 12, 13 और 14 जून को इसी तरह का मौसम उत्तराखंड में रहने वाला है। ओलावृष्टि एवं बारिश के कारण तापमान में हल्की गिरावट दर्ज की जा सकती है। उत्तराखंड के मैदानी शहरों में पारा रिकॉर्ड तोड़ रहा है।

हालांकि लोगों को जल्द ही इस गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद है। आईएमडी की ओर से बारिश की संभावना जतायी गयी है जिससे रुड़की, हरिद्वार, विकास नगर, काशीपुर और रुद्रपुर आदि शहरों में लोगों को तपती गर्मी से राहत मिल सकती है। गर्मी से निजात पाने के लिये लोग नैनीताल, मसूरी, चकराता का रुख कर रहे हैं। इसके अलावा पानी वाले स्थानों पर भी लोगों की खूब भीड़ लग रही है। अन्य राज्यों से आने वाले पर्यटकों के साथ हो स्थानीय लोग भी ठंडे क्षेत्रों में जा रहे हैं। मसूरी के कैम्पटी फॉल, मसूरी, देहरादून के सहस्त्रधारा, चकराता के टाइगर फॉल में पर्यटकों का जमावड़ा लगा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.