May 24, 2024

यमुनोत्री हाईवे जगह-जगह मलबा, बोल्डर और दलदल होने से आवाजाही के लिए बंद, पुरोला में बादल फटने से भारी नुकसान

1 min read

प्रदीप चौहान।
उत्तरकाशी। यमुनाघाटी में शुक्रवार रात से रही मूसलाधार बारिश के चलते नदी और नाले उफान पर हैं। यमुनोत्री हाईवे जगह-जगह मलबा, बोल्डर और दलदल होने से आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया है। यमुनोत्री पर जगह जगह मलबा और पत्थर आने के कारण मार्ग बाधित है होने से पर्यटकों और स्थानीय लोगों सहित बड़ी संख्या में यात्री फंसे हुए हैं। एनएच बड़कोट के द्वारा मार्ग खोलने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं आठ गावं को जोड़ने वाला खरादी-कुर्सिल-खांड मोटर मार्ग ध्वस्त होने से लोग अलग -थलग पड़ गए हैं।

यमुनोत्री हाईवे जगह-जगह मलबा, बोल्डर और दलदल होने से आवाजाही के लिए बंद , पर्यटकों और स्थानीय लोगों सहित बड़ी संख्या में यात्री फंसे, आठ गावं को जोड़ने वाला खरादी, कुर्सिल-खांड मोटर मार्ग ध्वस्त होने से लोग अलग -थलग, पुरोला में बादल फटने से भारी नुकसान

उधर, पुरोला इलाके में आधी रात से मूसलाधार बारिश हो रही है। छाड़ा खड में बादल फटने से धान के खेतों को भारी भूकटाव से छति हुई है। क्षेत्र के कई आवासीय भवन मलवे की चपेट में आने से लोगों का भारी नुकसान हुआ है वहीं छाडा खंड में उफान से गाड़ियों के बहने की खबर है।

उत्तरकाशी प्रशासन के मुताबिक, छटांगा समेत कई जगहों पर यमुनोत्री हाईवे अवरुद्ध हो गया है, स्थिति का जायजा लेने के लिए एक तहसीलदार को भेजा गया है। उत्तरकाशी जिले के आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने बताया कि बड़कोट क्षेत्र में गंगनानी के पास भारी बारिश के कारण यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर काफी मलबा और पत्थर आ गए हैं।

उन्होंने कहा कि बारिश के कारण कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में जलजभराव हो गया। स्कूली बच्चों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाना पड़ा है। राहत कार्य के लिए राज्य आपदा मोचन बल और अग्निशमन विभाग की एक-एक टीम को तुरंत मौके पर भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.